हिंदी में शायरीlove shayari

  • हिंदी लव शायरी 2020 .beautiful hindi love shayariहिंदी में शायरी .लव शायरी हिंदी में ,दिल शायरी इश्क शायरी ,मोहब्बत शायरी 2020 ,hindi shayari love shayari, दिल लगा शायरी , 2020 की नई शायरी हिंदी मेंं ,प्यार वाली शायरी , दिल खुस शायरी , 

[su_box title=”शायरी ” style=”bubbles” box_color=”#eb1aec”]◆ बिना देखे तेरी तस्वीर बना लेते है .. बिना देखे तेरी तस्वीर बना लेते है बिना तेरे जाने हाल बता देते है ये तो मेरी मोहब्बत की ताकत है तेरी आँखों के आशुओ को अपनी आंखों में ला सकते है ।[/su_box]

कितना करीब था चाँद हमारे हमने तब भी उसको नही छुआ
कितना करीब था चाँद हमारे हमने तब भी उसको नही छुआ
जब दूर हुआ तो दाग दिखा चलो अच्छा हुआ जो नही छुआ
तेरी नजर कही तेरा जिस्म कही तेरा इश्क़ कही वो भला मेरा क्या होता जो खुद का नही हुआ ।

उससे ही इश्क़ , उससे ही नफरत ,उससे ही गिला
क्या किसीको कोशिये ये दिल ही हमारा नही हुआ
और तू मिल भी जाती तो तुझे खोने का डर रहता ।
तू मिल भी जाती तो तुझे खोने का डर रहता मतलब जो भी हुआ अच्छा ही हुआ ।

beautiful hindi love shayari

In आँखों मे कभी आग थी।
इन आँखों मे कभी आग थी अब जो पानी है सब तेरी मेहरबानी है
और कैसे करूँ यकीन तेरे फलसफे का ये भी तो तेरी जबानी है
इश्क़ और शियासत दोनो क्या परवाह अंजामों की ।
इश्क़ और शियासत दोनो क्या परवाह अंजामों की इनको तो बस आग लगानी है

और जैसी तू समझी है वैसी कोई बात नही है
जैसी तू समझी है वैसी कोई बात नही है ये अलग बात है तुमको तो बस बात बढ़ानी है ।
की एक तमन्ना बाकी है मेरी जिंदगी में तेरी माथे से मुझे दफा जुल्फ हटानी है

मैं दूर से तौबा कर लूंगा
की मैं दूर से तौबा कर लूंगा अगर तुमसा मिला कभी
और तुम जरा सी रहम खा लेना अगर हमसा मिला कभी ।

 

dil love Shayari

अभी कुछ बात आगे बढ़ी ही थी
अभी कुछ बात आगे बढ़ी ही थी
अभी कुछ ख्वाब आगे देखी ही थी
दो दिलो के परिंदों ने उड़ान अभी भारी ही थी
कम्बख्त मोहब्बत के दुश्मनों ने दिल के दरवाजे पर दस्खत दे दिए

चलो इश्क की वादियों में अब मैं भी खो जाता हूँ
चलो इश्क की वादियों में अब मैं भी खो जाता हूँ
दिल मे तेरे मोहब्बत का बीज बो जाता हूँ पहले तो खत्म करता हूँ सारी परेशानियों को तेरी अगर मुझसे ही दिक्कत है तो मैं ही खत्म जो जाता हूँ

माना की तेरी महफिलों में मेहताब बहुत है
माना की तेरी महफिलों में मेहताब बहुत है मैं चिराग हूँ खुद को बूझो जाता हूँ

और रास्ता सफर मंजिल सब मालूम है मुझे कोई खरगोश नही हूँ जो जरा दौड़ के सो जाता हूँ
शादियों के रिश्ते को एक पल में तोड़ गयी कहती थी अपना बनाकर छोडूंगी

कम्बख्त अपना बनाकर छोड़ गई
उजालो का दामन छोड़ दिया मैंने ।
उजालो का दामन छोड़ दिया मैंने अंधेरो में रहना सिख लिया है मतलबीओ से अब वास्ता ही नही जुगनुओं से कहना सिख लिया है

Hindi me love Shayari click

वो पर्वत है तो खड़े रहे अपनी जगह ।
वो पर्वत है तो खड़े रहे अपनी जगह हमने दारिया बनकर बहना सिख लिया है
की दिल तो अब जोरो से धड़कता ही नही इसने भी चुप रहना सिख लिया है
अब उनकी मर्जी गाली दे हमको या गोली से मार डाले ।

अब उनकी मर्जी गाली दे हमको या फिर गोली से मार डाले
हमने बतमीजियो को सहना सिख लिया है

Enjoy love Shayari hindi

तू खुस रहे दुनिया उसकी बसाकर ही ।
की तू खुस रहे दुनिया उसकी बसाकर ही ओ भी खुस होगा तुझे अपनाकर ही पर दिल उसके साथ मत करना ।
छोड़ना मत मेरी तरह अजमाकर ही ।

शायरी हिंदी Poem in hindi 


Virendra Kumar

Hii . Friends - My Name Is Virendra Kumar .I am a poet|YouTuber|Blogger.

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *